[ad_1]

कामिका एकादशी का व्रत महत्वपूर्ण माना जाता है।

कामिका एकादशी का व्रत भगवान विष्णु जी को समर्पित है।

सावन के महीने में यह व्रत आता है इसलिए भगवान भोलेनाथ और विष्णु जी की कृपा भक्तों पर बनी रहती है।

कामिका एकादशी का व्रत सावन के कृष्ण पक्ष की एकादशी तिथि को रखा जाता है।

कामिका एकादशी का व्रत सावन महीने के 11 दिन आता है।

2023 कामिका एकादशी का व्रत 13 जुलाई, गुरुवार को है।

कामिका एकादशी की कथा स्वयं ब्रह्मा जी ने सुनाई थी।

इस व्रत का महत्व अश्वमेध यज्ञ के बराबर पुण्य देने वाला माना गया है जो मोक्ष के द्वार खुलता है।

[ad_2]