[ad_1]

शनिवार को ग्रीस से बेंगलुरु पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इसरो प्रमुख

एस सोमनाथ व चंद्रयान-3 मिशन में शामिल वैज्ञानिकों से मुलाकात की।

बेंगलुरु पहुंचने के बाद उन्होंने 'जय जवान, जय विज्ञान, जय अनुसंधान' का नारा लगाया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा चंद्रयान-3 मिशन का विक्रम लैंडर चंद्रमा पर

जिस जगह उतरा उसे 'शिवशक्ति पॉइंट' के नाम से जाना जाएगा।

और चंद्रमा पर जिस जगह चंद्रयान-2 ने पदचिह्न छोड़े, वह पॉइंट 'तिरंगा' कहलाएगा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, "स्पेस मिशन्स के टचडाउन पॉइंट को नाम दिए जाने की वैज्ञानिक परंपरा है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को एलान किया कि

हर साल 23 अगस्त को 'नैशनल स्पेस डे' के तौर पर मनाया जाएगा।

[ad_2]